हेडलाइंस
J&K: सामने आया कुलगाम में बैंक कर्मचारी की हत्या का CCTV, नकाबपोश ने बेखौफ चलाई गोली सोनिया गांधी कोरोना पॉजिटिव, कई कांग्रेस नेता भी संक्रमित...पिछले दिनों बैठकों में हुईं थीं शामिल बीजेपी में शामिल हुए हार्दिक पटेल, भगवा टोपी पहने आए नजर गैरी कर्स्टन ने की ऋद्धिमान साहा की तारीफ, कहा- वह हमारे लिए अहम खिलाड़ी Cryptocurrency से अर्थव्यवस्था के एक हिस्से के ‘डॉलरीकरण' का खतरा: आरबीआई अधिकारी पाकिस्तान में आसमान बरसा रहा आग‍ ! पारा 51 डिग्री के पार, लोगों को बेवजह बाहर न निकलने की सलाह पाकिस्तान के वजीरिस्तान में आत्मघाती हमले में तीन बच्चों समेत 6 लोगों की मौत पत्रकार गणेश तिवारी आत्महत्या मामला में बड़ी कार्रवाई, पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR राघौगढ़ किले से नहीं भाजपा नेताओं से जुड़े है गुना हत्याकांड के तार, फोटो सहित प्रूफ दिए हैं- जयवर्धन सिंह दिल्ली में भीषण गर्मी और लू का कहर, कई इलाकों में पारा 49 डिग्री सेल्सियस के पार

ऑपरेशन ऑलआउट: सुरक्षाबलों ने घाटी में मार गिराए 160 आतंकी

उत्तरी कश्मीर में आतंकवाद बढ़ने का सबसे बड़ा कारण सीमा पार से होने वाली घुसपैठ है

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों और पुलिस ने आतंकियों का सफाया करने के लिए ऑपरेशन ऑलआउट चलाया हुआ है। सुरक्षाबलों ने इस साल से अभी तक घाटी में करीब 160 आतंकियों को एनकाउंटर में मार गिराया है। जम्मू-कश्मीर में साल की शुरूआत में 300 आतंकी थे। ऑपरेशन ऑलआउट की सफलता के बाद घाटी में लगातार आतंकियों की गिनती कम होती जा रही है। कश्मीर मे अब 170-200 के बीच आतंकी बचे हुए हैं। इनमें से 40 पाकिस्तान से हैं। सबसे ज्यादा इनमें हिजबुल और लश्कर के आतंकी हैं। सीमा पार से घुसपैठ न होने के कारण जैश आतंकियों की संख्या में कमी आ रही है।

जानकारी के मुताबिक कश्मीर में सभी सुरक्षा एजेंसियों की तरफ से मिलकर ऑपरेशन ऑलआउट शुरू किया गया है। इसमें दस जिलों में पुलिस के साथ सेना और सीआरपीएफ मिलकर काम कर रही है। इस ऑपरेशन में सुरक्षाबलों को स्थानीय लोगों का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। इससे आतंकियों के छिपे होने की जानकारी सामने आती है। इसके अलावा युवाओं को आतंकवाद रास्ते से जाने से रोका जा रहा है। इस वजह से आतंकी की पाठशाला में भर्ती भी कम हो रही है।

अभी तक मार गिराए 160 आतंकी
पुलिस सूत्रों ने बाताया कि इस वक्त सबसे ज्यादा आतंकी हिजबुल और लश्कर के पास हैं। दोनों संगठनों की गिनती मिलाकर 100 से ऊपर है। बाकी बची गिनती में जैश, अल बदर, अंसार गजवत उल्ल हिंद शामिल है। इस साल में अभी तक लगभग 160 आतंकियों को एनकाउंटर में मार गिराया है। साल की शुरूआत में घाटी में 330 आतंकी थे जोकि अब घटकर 170 रह गए हैं। आतंकियों की संख्या के बारे में पुलिस के सीआईडी और सीआई विंग की ओर से जानकारी दी गई है।

साउथ कश्मीर आतंकवाद का गढ़
साउथ कश्मीर सबसे अधिक आतंकवाद प्रभावित इलाका है। उत्तरी कश्मीर में आतंकवाद बढ़ने का सबसे बड़ा कारण सीमा पार से होने वाली घुसपैठ है जोकि इस वक्त नहीं हो पा रही है। इसके अलावा सेंट्रल कश्मीर में आतंकियों की गिनती नामात्र है। ऐसे में सुरक्षाबलों का ज्यादा फोकस साउथ कश्मीर पर है ताकि इस इलाके में सक्रिय आतंकियों को मार गिराया जा सके। आईजी विजय कुमार ने अपने बयान में कहा है कि कश्मीर में मौजूदा आतंकियों की गिनती 170 और 200 की बीच में है।

J&K: सामने आया कुलगाम में बैंक कर्मचारी की हत्या का CCTV, नकाबपोश ने बेखौफ चलाई गोली     |     सोनिया गांधी कोरोना पॉजिटिव, कई कांग्रेस नेता भी संक्रमित…पिछले दिनों बैठकों में हुईं थीं शामिल     |     बीजेपी में शामिल हुए हार्दिक पटेल, भगवा टोपी पहने आए नजर     |     गैरी कर्स्टन ने की ऋद्धिमान साहा की तारीफ, कहा- वह हमारे लिए अहम खिलाड़ी     |     Cryptocurrency से अर्थव्यवस्था के एक हिस्से के ‘डॉलरीकरण’ का खतरा: आरबीआई अधिकारी     |     पाकिस्तान में आसमान बरसा रहा आग‍ ! पारा 51 डिग्री के पार, लोगों को बेवजह बाहर न निकलने की सलाह     |     पाकिस्तान के वजीरिस्तान में आत्मघाती हमले में तीन बच्चों समेत 6 लोगों की मौत     |     पत्रकार गणेश तिवारी आत्महत्या मामला में बड़ी कार्रवाई, पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR     |     राघौगढ़ किले से नहीं भाजपा नेताओं से जुड़े है गुना हत्याकांड के तार, फोटो सहित प्रूफ दिए हैं- जयवर्धन सिंह     |     दिल्ली में भीषण गर्मी और लू का कहर, कई इलाकों में पारा 49 डिग्री सेल्सियस के पार     |    

SMTV India
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088