हेडलाइंस
J&K: सामने आया कुलगाम में बैंक कर्मचारी की हत्या का CCTV, नकाबपोश ने बेखौफ चलाई गोली सोनिया गांधी कोरोना पॉजिटिव, कई कांग्रेस नेता भी संक्रमित...पिछले दिनों बैठकों में हुईं थीं शामिल बीजेपी में शामिल हुए हार्दिक पटेल, भगवा टोपी पहने आए नजर गैरी कर्स्टन ने की ऋद्धिमान साहा की तारीफ, कहा- वह हमारे लिए अहम खिलाड़ी Cryptocurrency से अर्थव्यवस्था के एक हिस्से के ‘डॉलरीकरण' का खतरा: आरबीआई अधिकारी पाकिस्तान में आसमान बरसा रहा आग‍ ! पारा 51 डिग्री के पार, लोगों को बेवजह बाहर न निकलने की सलाह पाकिस्तान के वजीरिस्तान में आत्मघाती हमले में तीन बच्चों समेत 6 लोगों की मौत पत्रकार गणेश तिवारी आत्महत्या मामला में बड़ी कार्रवाई, पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR राघौगढ़ किले से नहीं भाजपा नेताओं से जुड़े है गुना हत्याकांड के तार, फोटो सहित प्रूफ दिए हैं- जयवर्धन सिंह दिल्ली में भीषण गर्मी और लू का कहर, कई इलाकों में पारा 49 डिग्री सेल्सियस के पार

पुलवामा आतंकी हमला- यूरोपीय संसद के 4 सदस्यों ने की पाकिस्तान पर बैन की मांग

पाकिस्तान पर तुरंत बैन लगाने और यूरोप में इसी तरह आतंकवाद के हमले में भागीदारी की जांच की मांग की है।

यूरोपीय संसद (MEPs) के सदस्यों ने पाकिस्तान के पुलवामा आतंकी हमलों में शामिल होने वाले बयान की निंदा की है। यूरोपीय संसद ने पाकिस्तान पर बैन लगाने की मांग की है। बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान के मंत्री ने अपनी नेशनल असेंबली में भारत में पुलवामा आतंकी हमलों में देश के शामिल होने के बारे में खुलासाकिया था। मंत्री ने पाकिस्तान असेंबली में का था कि पुलवामा हुए अटैक के पीछे पाकिस्तान का हाथ था। पाक मंत्री के इस बयान पर यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन को चार MEPs-थिएरी मैरियानी, जूली लिंचेक्स, वर्जिनि जोरन और फ्रांस जेमेट ने जोरदार शब्दों में पाकिस्तान पर तुरंत बैन लगाने और यूरोप में इसी तरह आतंकवाद के हमले में भागीदारी की जांच की मांग की है।

यूरोपीय संसद के सदस्यों ने कहा कि हम यूरोपीय आयोग और यूरोपीय विदेश कार्रवाई सेवाओं को पुलवामा हमले में अपनी भागीदारी के लिए इस्लामी गणतंत्र पाकिस्तान के नेतृत्व और सरकार की तुरंत निंदा करने के लिए कहते हैं। सदस्यों ने कहा कि हम यूरोपीय संघ से अनुरोध करते हैं कि वे जिम्मेदार लोगों के खिलाफ प्रतिबंधों पर विचार करें। यूरोपीय संसद ने कहा कि पाकिस्तान के मंत्री खुलेआम से आतंकवाद में हाथ होने के सबूत दे रहे हैं ऐसे में आयोग के चुप नहीं रहना चाहिए और कार्रवाई करनी चाहिए।

बता दें कि 14 फरवरी, 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के काफिले पर नृशंस आतंकी हमला किया गया था जिसमें CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद (JeM) ने पुलवामा आतंकवादी हमले में हाथ होने का दावा किया था लेकिन पाकिस्तान ने इसमें हाथ होने से इंकार किया था। 29 अक्तूबर 2020 को पाकिस्तान के संघीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने पाकिस्तान नेशनल असेंबली में खड़े होकर इमरान खान की सरकार के तहत पुलवामा आतंकी हमले को ‘सफलता’ के रूप में स्वीकार किया।

J&K: सामने आया कुलगाम में बैंक कर्मचारी की हत्या का CCTV, नकाबपोश ने बेखौफ चलाई गोली     |     सोनिया गांधी कोरोना पॉजिटिव, कई कांग्रेस नेता भी संक्रमित…पिछले दिनों बैठकों में हुईं थीं शामिल     |     बीजेपी में शामिल हुए हार्दिक पटेल, भगवा टोपी पहने आए नजर     |     गैरी कर्स्टन ने की ऋद्धिमान साहा की तारीफ, कहा- वह हमारे लिए अहम खिलाड़ी     |     Cryptocurrency से अर्थव्यवस्था के एक हिस्से के ‘डॉलरीकरण’ का खतरा: आरबीआई अधिकारी     |     पाकिस्तान में आसमान बरसा रहा आग‍ ! पारा 51 डिग्री के पार, लोगों को बेवजह बाहर न निकलने की सलाह     |     पाकिस्तान के वजीरिस्तान में आत्मघाती हमले में तीन बच्चों समेत 6 लोगों की मौत     |     पत्रकार गणेश तिवारी आत्महत्या मामला में बड़ी कार्रवाई, पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ दर्ज की FIR     |     राघौगढ़ किले से नहीं भाजपा नेताओं से जुड़े है गुना हत्याकांड के तार, फोटो सहित प्रूफ दिए हैं- जयवर्धन सिंह     |     दिल्ली में भीषण गर्मी और लू का कहर, कई इलाकों में पारा 49 डिग्री सेल्सियस के पार     |    

SMTV India
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088