SMTV India
Local & National Breaking News

छत्तीसगढ़ की दिव्यांग युवती का बैतूल के जंगल में निर्वस्त्र मिला शव, रेप के बाद हत्या की आशंका

मध्य प्रदेश के बैतूल में एक विकलांग युवती का निर्वस्त्र शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर सारनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। शव की शिनाख्त छत्तीसगढ़ के तालदेवरी जांजगीर चांपा निवासी 34 वर्षीय इमला...

36

बैतूल: मध्य प्रदेश के बैतूल में एक विकलांग युवती का निर्वस्त्र शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर सारनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। शव की शिनाख्त छत्तीसगढ़ के तालदेवरी जांजगीर चांपा निवासी 34 वर्षीय इमला मलहार के रूप में हुई है। प्रथम दृष्टया मामला रेप के बाद हत्या का प्रतीत हो रहा है। इसी को गंभीरता से लेकर एसडीओपी रोशन कुमार जैन, टीआई रत्नाकर हिंग्वे और चौकी प्रभारी रवि शाक्य ने मौके का निरीक्षण किया। पुलिस के अनुसार शव 3-4 दिन पुराना है। शव में कीड़े लग गए हैं। काफी दूर तक बदबू चल रही है। जिस स्थान रावनदेव पहाड़ी के जंगल में जहां शव मिला है। वह जंगल काफी घना है। पलास, सागौन और बांस का घना जंगल है। इसलिए यहां तक किसी भी व्यक्ति का आसानी से पहुंचना मुश्किल है। लेकिन पुलिस लोकेशन और शव से आ रही बदबू के आधार पर शव तक पहुंच सकी।

संदेह होने पर मृतका ने भाई को भेजी थी लोकेशन

23 अगस्त को मृतका छत्तीसगढ़ से बैतूल जिले के सारनी थाना क्षेत्र में बगडोना के लिए निकली थी। यहां उसकी परिचित निवास करती है। जिसने बगडोना के ही कन्हैया से मुलाकात कराई थी। कन्हैया के साथ मृतका ने रावनदेव के जंगल मे जाने की बात अपनी सहेली आंसू और भाई को बताई थी। कन्हैया अपने साथ उसको छतरपुर चौक से बाइक पर बैठाकर रावनदेव के जंगल ले गया। जहां मृतका को किसी बात पर संदेह हुआ तो उसने उक्त जंगल की लोकेशन और बाइक के नंबर प्लेट की फोटो अपने भाई और सहेली के मोबाइल पर सेंड की। इसके बाद से ही उसका मोबाइल बंद है। 24 अगस्त को उसके भाई उतरा कुमार और पप्पू कुमार ने बिलासपुर में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई और लोकेशन के आधार पर पाथाखेड़ा चौकी पहुंचकर पुलिस की मदद ली।

कन्हैया और गोलू पर है रेप व हत्या का शक

बाइक के नंबर प्लेट के आधार पर पुलिस ने बगडोना के गर्ग कालोनी निवासी कन्हैया मोहबे को अभिरक्षा में लिया है। जिससे पूछताछ जारी है। कन्हैया ने अपना जुर्म तो कबूल कर लिया है, लेकिन इटारसी निवासी गोलू के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना बता रहा है। कन्हैया ने मृतका के मोबाइल से सिम निकालकर जंगल मे फेंकना भी कबूल किया है। साथ ही गोलू द्वारा पकड़कर रखने और स्वयं कन्हैया ने मृतका का चुनरी से गला घोंटना भी स्वीकार किया है।

पुलिस को गुमराह कर रहा कन्हैया

जिस कन्हैया के साथ मृतका जंगल में गई थी। उसके द्वारा हत्या करने का जुर्म कबूल किया जा रहा है पर रेप करने की बात से इनकार कर रहा है। जबकि खुद ही बता रहा है कि इस स्थान पर डंडे से उसको मारा फिर घसीटकर झाड़ियों में फेंक दिया। जबकि मृतका के कपड़े जंगल में अलग अलग स्थानों पर मिले। वहीं शरीर पर कपड़े के नाम पर सलवार था जो गर्दन से ऊपर था। यानी शरीर पर कुछ नहीं था। कन्हैया पुलिस को गुमराह करने अलग अलग बयान दे रहा है। हालांकि जुर्म करना स्पष्ट रूप से कबूल कर रहा है।

इमला नेटवर्किंग मार्केटिंग का काम करती थी

पुलिस के अनुसार इमला छत्तीसगढ़ में नेटवर्किंग का जॉब करती थी। रुपयों की बारिश कराने के झांसे में बगडोना आ पहुंची और यहां दरिंदगी का शिकार होना पड़ गया। मृतका के भाई ने बताया इमला एक पैर से दिव्यांग थी। कन्हैया को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ कर रही पुलिस अब इटारसी निवासी गोलू उर्फ सुरेंद्र की तलाश में जुट गई है।

SMTV India