SMTV India
Local & National Breaking News

होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम, बाबई का होगा नाम माखन नगर, नर्मदा जयंती पर सीएम मंच से करेंगे घोषणा

साथ ही जिले के बाबई तहसील को भी माखन नगर के नाम से अब जाना जाएगा बाबई माखन दादा की जन्मस्थली है

8

होशंगाबाद: 8 फरवरी को नर्मदा जयंती का मुख्य समारोह नर्मदा के सेठानी घाट पर बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। नर्मदा जयंती उत्सव को लेकर तैयारियां अंतिम चरणों में है। नर्मदा जयंती के दिन जल मंच से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम और बाबई का नाम माखन नगर बदलने की घोषणा करेंगे। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके दी है।

होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम करने के लिए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने 1991 में अभियान शुरू किया था, इसमें होशंगाबाद नहीं नर्मदापुरम कहो अभियान चलाया, 2000 के दशक में माँग चलती रही 2010 के बाद नपा और 2016 में जिला योजना समिति में प्रस्ताव बनाकर पास हुआ। संभाग का नाम नर्मदापुरम रख दिया गया। पर शहर का नाम अभी भी होशंगाबाद था। समय-समय पर लोग मांग करते रहे कि होशंगाबाद का नाम बदला जाए अब तय हो चुका है होशंगाबाद नर्मदापुरम के नाम से जाना जाएगा।

साथ ही जिले के बाबई तहसील को भी माखन नगर के नाम से अब जाना जाएगा बाबई माखन दादा की जन्मस्थली है स्थानीय लोगों की मानें तो कई वर्षों से बाबई तहसील का नाम माखन दादा के नाम पर माखन नगर करने की मांग की जा रही थी। माखन दादा मध्य प्रदेश के पहले स्वतंत्रता सेनानी भी माने जाते हैं ऐसे में बाबई का नाम माखन नगर होने पर लोगों में उत्साह है।

SMTV India