SMTV India
Local & National Breaking News

Indian Railway: ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने के लिए रेलवे कर रहा ये उपाय, समय से गंतव्य पर पहुंचेंगे यात्री

2

भोपाल। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने के लिए रेलवे एक और कवायद करने जा रहा है। अब लूप लाइनों पर ट्रेनों की गति अधिकतम 50 किमी प्रति घंटे कर दी जाएगी। ये वे ट्रेनें होगी जो प्लेटफार्म वाली लाइन से बिना रुके गुजरेंगी। अभी लूप लाइन में अधिकतम गति सीमा 30 किमी प्रति घंटा है। ये लाइनें प्रत्येक स्टेशन पर होती हैं। इनकी लंबाई 500 से 600 मीटर होती है।

आमतौर पर लंबे रूट की ट्रेनें पहले से आखिरी स्टेशन तक न्यूनतम 50 से लेकर अधिकतम 200 छोटे-बड़े स्टेशनों से होकर गुजरती हैं। इस तरह एक स्टेशन के 600 मीटर की लाइन में गति बढ़ जाने से ट्रेनें गंतव्य तक जल्दी पहुंचेंगी। रेलवे पहले चरण में महानगरों को जोड़ने वाले रेल मार्गो पर पड़ने वाले स्टेशनों की लूप लाइनों पर गति सीमा बढ़ाएगा। पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर जोन के कोटा रेल मंडल को इसके लिए चुना गया है। इस मंडल से दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग गुजरता है। इस पर कोटा मंडल के 50 स्टेशन पड़ते हैं। यहां गति बढ़ाने के लिए रेलवे ने सर्वे कर लिया है।

जुलाई तक बढ़ाई जाएगी गति 

ट्रैक को अधिक गति सीमा के लिए तैयार किया जा रहा है। अप्रैल में परीक्षण होने की संभावना है। जुलाई तक गति बढ़ाई जाएगी। बाद में भोपाल व अन्य मंडलों के स्टेशनों की लूप लाइनों पर भी गति बढ़ाने की योजना है। रेलवे को इसलिए पड़ी लूप लाइनों पर गति बढ़ाने की जरूरत वैसे तो प्रत्येक स्टेशन क्षेत्र में मुख्य लाइनें भी होती हैं जिन पर ट्रेनों की गति न्यूनतम 70 से लेकर लेकर अधिकतम 130 किमी प्रति घंटे तक होती है, लेकिन कई बार ये लाइनें व्यस्त होती हैं और लूप लाइनें खाली होती हैं। ऐसी स्थिति में इन्हीं लूप लाइनों से नान स्टापेज ट्रेनों को गुजारना पड़ता है।

ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए रेलवे यह भी कर रहा

– सिंगल लाइनों का दोहरीकरण और ट्रैक का विद्युतीकरण किया जा रहा है।

– जिन रेलमार्गो पर दो लाइने हैं वहां तीसरी रेल लाइन बिछाई जा रही है। ये काम 68 रेल मंडलों से गुजरने वाले रेलमार्गो पर किए जा रहे हैं।

– पुराने कोचों की जगह अधिक गति से चलने में सक्षम कोच बनाए जा रहे हैं।

– कोरोना संक्रमण के बाद रेलवे बोर्ड ने भोपाल समेत कुछ रेलखंडों में एलएचबी कोच से चलने वाली मेल व एक्सप्रेस श्रेणी की ट्रेनों की गति 110 से बढ़ाकर 130 किमी प्रति घंटे कर दी है।

लूप लाइनों पर गति बढ़ाने के लिए काम शुरू

लूप लाइनों पर गति बढ़ाने के लिए हमारे जोन ने काम शुरू कर दिया है। सर्वे के आधार पर ट्रैक का मेंटेनेंस करेंगे। जल्द ही ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा। गति बढ़ने से यात्रियों और रेलवे दोनों को फायदा होगा। – प्रियंका दीक्षित, मुख्य प्रवक्ता, पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर जोन

SMTV India