हेडलाइंस
Assembly Elections: उत्तर प्रदेश में अकेल चुनाव लड़ेगी जद(यू), गठबंधन पर भाजपा से नहीं मिला कोई जवाब Assembly Elections: भारतीय किसान यूनियन ने SP-RLD गठबंधन को दिया समर्थन, जानें क्या बोले राकेश टिकैत? ग्रेजुएशन पास वालों के लिए यहां निकली हैं बंपर भर्तियां, अप्लाई करने से पहले पढ़ लें यह खबर 5.6 इंच की डिस्प्ले के साथ Apple ला सकती है iPhone SE 3, लीक हुई तस्वीर Gold के प्रति भारतीयों का बढ़ा आकर्षण, 9 महीने में सोने का आयात हुआ दोगुना भ्रष्टाचार मामले को लेकर समझौता याचिका पर बातचीत कर रहे नेतन्याहू विराट कोहली के टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने पर पूर्व बल्लेबाज कैफ ने कही ये बड़ी बात पिंक और ब्लू शरारा सूट में सपना चौधरी ने बिखेरा खूबसूरती का जलवा, कैमरे के सामने झूमकर यूं दिए पोज दूर होगा होंठों के आसपास का कालापन, घर पर यूं बनाएं Beetroot Serum ग्वालियर में जीनोम सीक्वेंसिंग सैंपल की जांच की सुविधा नहीं

दिल्ली में 27 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले, 40 मरीजों की मौत से बढ़ी सरकार की चिंता

दिल्ली में 56991 लोग होम आइसोलेशन में हैं। जबकि 2264 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं।

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली में बुधवार को कोरोना के 27561 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही 40 मरीजों की मौत ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। संक्रमण दर बढ़कर 26.22 प्रतिशत हो गई है।स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़े के अनुसार, 14 हजार 957 मरीज स्वस्थ भी हुए। दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 87 हजार 445 हो गई है।

दिल्ली में 56991 लोग होम आइसोलेशन में हैं। जबकि 2264 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। जिनमें से 739 मरीजों को आक्सीजन पर रखा गया है। 91 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। इससे पहले मंगलवार को कोरोना के 21,161 नए मामले सामने आए थे। पिछले दिनों कोरोना के मामले दो से तीन दिन में दोगुने हो रहे थे। अभी छह दिन में मामले दोगुने हुए हैं। मंगलवार को कोरोना से 23 मरीजों की मौत हुई थी।

वहीं, दिल्ली में कोरोना के मामलों में बढ़ाेतरी को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय को दो दिनों के लिए पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। शैक्षणिक, गैर शैक्षणिक कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है। इस दौरान पूरेे परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा।

बता दें कि राजधानी में संक्रमण के मामलों में जो तेज उछाल आ रहा है। उसकी वजह ओमिक्रोन वैरिएंट ही है। इसकी पुष्टि जीनोम सीक्वेंसिंग की हालिया रिपोर्ट में हुई। इसके मुताबिक 79 प्रतिशत सैंपल में ओमिक्रोन वैरिएंट मिला है। राजधानी में एक से आठ जनवरी के बीच लिए गए 511 सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। इसकी रिपोर्ट मंगलवार को मिल गई है। इसके मुताबिक 402 सैंपल यानी 79 प्रतिशत में ओमिक्रोन वैरिएंट मिला है, जबकि 17 प्रतिशत से ज्यादा सैंपल में डेल्टा वैरिएंट पाया गया है। इसके अलावा करीब चार प्रतिशत सैंपल में दूसरे वैरिएंट भी पाए गए हैं। इससे पहले 25 से 31 दिसंबर की रिपोर्ट में 28 प्रतिशत ओमिक्रोन, 32 प्रतिशत मामले डेल्टा के और 38 प्रतिशत मामले अन्य वैरिएंट के मिले थे।

Assembly Elections: उत्तर प्रदेश में अकेल चुनाव लड़ेगी जद(यू), गठबंधन पर भाजपा से नहीं मिला कोई जवाब     |     Assembly Elections: भारतीय किसान यूनियन ने SP-RLD गठबंधन को दिया समर्थन, जानें क्या बोले राकेश टिकैत?     |     ग्रेजुएशन पास वालों के लिए यहां निकली हैं बंपर भर्तियां, अप्लाई करने से पहले पढ़ लें यह खबर     |     5.6 इंच की डिस्प्ले के साथ Apple ला सकती है iPhone SE 3, लीक हुई तस्वीर     |     Gold के प्रति भारतीयों का बढ़ा आकर्षण, 9 महीने में सोने का आयात हुआ दोगुना     |     भ्रष्टाचार मामले को लेकर समझौता याचिका पर बातचीत कर रहे नेतन्याहू     |     विराट कोहली के टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने पर पूर्व बल्लेबाज कैफ ने कही ये बड़ी बात     |     पिंक और ब्लू शरारा सूट में सपना चौधरी ने बिखेरा खूबसूरती का जलवा, कैमरे के सामने झूमकर यूं दिए पोज     |     दूर होगा होंठों के आसपास का कालापन, घर पर यूं बनाएं Beetroot Serum     |     ग्वालियर में जीनोम सीक्वेंसिंग सैंपल की जांच की सुविधा नहीं     |    

SMTV
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088