हेडलाइंस
Assembly Elections: उत्तर प्रदेश में अकेल चुनाव लड़ेगी जद(यू), गठबंधन पर भाजपा से नहीं मिला कोई जवाब Assembly Elections: भारतीय किसान यूनियन ने SP-RLD गठबंधन को दिया समर्थन, जानें क्या बोले राकेश टिकैत? ग्रेजुएशन पास वालों के लिए यहां निकली हैं बंपर भर्तियां, अप्लाई करने से पहले पढ़ लें यह खबर 5.6 इंच की डिस्प्ले के साथ Apple ला सकती है iPhone SE 3, लीक हुई तस्वीर Gold के प्रति भारतीयों का बढ़ा आकर्षण, 9 महीने में सोने का आयात हुआ दोगुना भ्रष्टाचार मामले को लेकर समझौता याचिका पर बातचीत कर रहे नेतन्याहू विराट कोहली के टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने पर पूर्व बल्लेबाज कैफ ने कही ये बड़ी बात पिंक और ब्लू शरारा सूट में सपना चौधरी ने बिखेरा खूबसूरती का जलवा, कैमरे के सामने झूमकर यूं दिए पोज दूर होगा होंठों के आसपास का कालापन, घर पर यूं बनाएं Beetroot Serum ग्वालियर में जीनोम सीक्वेंसिंग सैंपल की जांच की सुविधा नहीं

सपा की पहली लिस्ट पर डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने साधा निशाना, बोले- गुंडों और दंगाइयों का साथ छोड़ने को तैयार नहीं अखिलेश

अपने बयान में कई उम्मीदवारों का नाम गिनाते हुए मौर्य ने उन्हें हिस्ट्रीशीटर, भगोड़ा, अपराधी करार दिया।

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (सपा) और राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) गठबंधन द्वारा जारी विधानसभा चुनाव प्रत्याशियों की पहली सूची पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस सूची के जरिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वह अपराधियों, गुंडों और दंगाइयों का साथ छोड़ने को तैयार नहीं हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश मुख्‍यालय द्वारा शुक्रवार को जारी बयान में केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ”सपा और रालोद गठबंधन की विधानसभा चुनाव प्रत्याशियों की पहली सूची के माध्यम से अखिलेश यादव ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वह अपराधियों, गुंडों और दंगाइयों का साथ छोड़ने को तैयार नहीं हैं। इससे यह भी पता चलता है कि सपा का सरकार बनाने का मतलब है, प्रदेश में फिर से दंगा राज, गुंडा राज और अपराधी राज।” उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ रही सपा और रालोद ने बृहस्पतिवार देर शाम 29 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की जिसमें सपा के 10 और रालोद के 19 उम्मीदवार शामिल हैं।

केशव प्रसाद मौर्य ने अपने बयान में आरोप लगाया कि सपा प्रत्याशियों की इस पहली सूची में ही कैराना (शामली) से पलायन के आरोपियों, दंगाइयों, गुंडों और हिस्ट्रीशीटरों को टिकट दिया गया है। उन्होंने सपा प्रमुख से सवाल किया, ”वह बताएं कि अपने गठबंधन से प्रदेश की जनता को क्या सन्देश देना चाहते हैं? अखिलेश बताएं कि क्या वह प्रदेश में फिर से मुज़फ्फरनगर जैसा दंगा और कैराना जैसे पलायन की स्थिति पैदा करना चाहते हैं?” उन्होंने दावा किया, ”सपा-रालोद गठबंधन के चरित्र के खिलाफ भाजपा अभियान चलाएगी और जनता के बीच सन्देश देने का काम भी करेगी।”

अपने बयान में कई उम्मीदवारों का नाम गिनाते हुए मौर्य ने उन्हें हिस्ट्रीशीटर, भगोड़ा, अपराधी करार दिया। मौर्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार में अपराधी थर-थर कांपते हैं लेकिन सपा ने इस सूची के ज़रिये ट्रेलर दिखाया है कि वह प्रदेश में गुण्डाराज और दंगाराज कि वापसी कराने का मंसूबा पाले हुए है।

Assembly Elections: उत्तर प्रदेश में अकेल चुनाव लड़ेगी जद(यू), गठबंधन पर भाजपा से नहीं मिला कोई जवाब     |     Assembly Elections: भारतीय किसान यूनियन ने SP-RLD गठबंधन को दिया समर्थन, जानें क्या बोले राकेश टिकैत?     |     ग्रेजुएशन पास वालों के लिए यहां निकली हैं बंपर भर्तियां, अप्लाई करने से पहले पढ़ लें यह खबर     |     5.6 इंच की डिस्प्ले के साथ Apple ला सकती है iPhone SE 3, लीक हुई तस्वीर     |     Gold के प्रति भारतीयों का बढ़ा आकर्षण, 9 महीने में सोने का आयात हुआ दोगुना     |     भ्रष्टाचार मामले को लेकर समझौता याचिका पर बातचीत कर रहे नेतन्याहू     |     विराट कोहली के टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ने पर पूर्व बल्लेबाज कैफ ने कही ये बड़ी बात     |     पिंक और ब्लू शरारा सूट में सपना चौधरी ने बिखेरा खूबसूरती का जलवा, कैमरे के सामने झूमकर यूं दिए पोज     |     दूर होगा होंठों के आसपास का कालापन, घर पर यूं बनाएं Beetroot Serum     |     ग्वालियर में जीनोम सीक्वेंसिंग सैंपल की जांच की सुविधा नहीं     |    

SMTV
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088