SMTV India
Local & National Breaking News

कुत्ते के बर्थडे के बहाने नेताओं की खिंचाई! दलबदलू, धोखेबाज, और चापलूस की तरफ से दी बधाई

नांचू अग्रवाल के वफादार डॉगी के जन्मदिन पर होर्डिंग्स पर बधाई देने वाले डॉगियों की भी फोटो लगाई गई है।

39

बैतूल: मध्यप्रदेश-महाराष्ट्र की सीमा पर बसे बैतूल जिले की मुलताई तहसील मुख्यालय का एक किस्सा इन दिनों सुर्खियों में छाया हुआ है। हैप्पी बर्थडे का एक बैनर – होर्डिंग्स इन दिनों धमाल मचाए हुए है। अकसर लोग अपने छोटे या बड़े भैया-भाभी-मित्र-शुभचिंतक और सहयोगियों के जन्मदिन या शादी की वर्षगांठ पर बड़े-बड़े बैनर पोस्टर और होर्डिंग्स से शहर को सजा डालते है। कुछ महीने पहले भूरा भैया के बहाने एक कुत्ते के जन्मदिन को सोशल मीडिया पर अच्छी खासी पब्लिसिटी मिल चुकी है। इसी कड़ी में अब बैतूल जिले की मुलताई तहसील मुख्यालय का होर्डिँग्स चर्चा का केंद्र बना हुआ है। मुलताई नगर के प्रमुख बस स्टैंड चौराहे पर जन्मदिन की बधाई वाला होर्डिंग्स लगते ही चौक चौराहों पर चर्चा का विषय बन गया है।

जनवरी माह में किसानों पर हुए गोलीकांड को लेकर भड़की हिंसा में शामिल गोलीकाण्ड के आरोपी किसान नेता एवं किसान संघर्ष समिति के पदाधिकारी के पुत्र नांचू अग्रवाल द्वारा अपने पालतू डॉगी को उसके कथित जन्मदिन पर दी गई कथित हार्दिक बधाई ने लोगों के बीच राजनैतिक हलचल पैदा कर रखी है। दरअसल, किसान नेता नांचू अग्रवाल ने अपने डॉगी के गले में जो फोटो वाली माला पहनाई है वह चर्चा का केन्द्र है। डॉगी के फोटो के नीचे लिखा है वफादार….!

नांचू अग्रवाल के वफादार डॉगी के जन्मदिन पर होर्डिंग्स पर बधाई देने वाले डॉगियों की भी फोटो लगाई गई है। मजेदार बात तो यह है कि इस बहाने नांचू अग्रवाल ने बैतूल जिले की निर्दलीय प्रत्याशियों को सर्वाधिक विजयी दिलवाने वाली मुलताई विधानसभा क्षेत्र की दो प्रमुख राजनैतिक दलों कांग्रेस-भाजपा के स्थानीय नेताओं की कथित राजनीति पर एक प्रकार का कटाक्ष किया गया है। बतौर कटाक्ष कें रूप में भारतीय कुत्तो की वे प्रजातियां बताने की कोशिश की है जिनका लोगों की दैनिक जीवन से जुड़ाव है। मुलताई में लगे बहुचर्चित इस होर्डिंग्स में कुत्तों की तस्वीर के नीचे लिखा गया है वह इस प्रकार है , दल बदलू , धोखेबाज, चापलूस, खुजली, दोगला, मौकापरस्त, फेकों लाल, झांकी बाज, छर्रा, नाम लिख कर पहचानों कौन जैसे नामों से संबोधित किया गया है।

होर्डिंग में लगाई गई है दस कुत्तों की फोटो
होर्डिंग लगवाने वाले नांचू अग्रवाल के पिता स्वर्गीय प्रहलाद अग्रवाल मुलताई गोलीकांड में शामिल आरोपी रह चुके है। पिता एवं पुत्र दोनों किसान संघर्ष समिति से जुड़े थे। पूर्व विधायक डॉ सुनील उर्फ सुनील मिश्रा के करीबी रहे है। समाजवादी विचारधारा से जुड़े नांचू अग्रवाल मूलत: सेन्ट्रीरिंग का काम है। यह होर्डिंग बस स्टैंड के मुख्य चौराहे पर नगरपालिका कॉप्लेक्स पर लगाया है जिसे आज पूरे दिन लोग देखकर अपने मोबाइल में कैद करते रहें। पूण्य सलिला मां सूर्यपुत्री ताप्ती की जन्मभूमि मुलतापी जिसे प्रदेश की भाजपा सरकार ने पवित्र नगरी एवं आस्था नगरी का दर्जा दे रखा है। यहां पर लगा यह होर्डिंग्स पशु प्रेम है या उन राजनीति एवं समाजसेवा से जुड़े कथित लोगों पर कटाक्ष है यह तो नांचू अग्रवाल ही बता सकते है। इस होर्डिंग्स से जुड़ा एक कथित संदेश जो मात्र यह बताने के लिए कि हम तुम्हारे हैं सनम जन्मदिन पर होल्डिंग लगाकर अपनों को हंसी का पात्र बना कर रख देते हैं।

SMTV India