हेडलाइंस
इंदौर अपार्टमेंट में चल रहे ‘सेक्स रैकेट’ का पर्दाफाश Thursday Ka Rashifal: आज मनोरंजन का मिलेगा मौका, वाणी पर रखें संयम, पढ़ें अपना राशिफल योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय, इतिहास | Yogi Adityanath Biography in Hindi कपिल शर्मा का जीवन परिचय एवं शो की जानकारी | Kapil Sharma Biography in hindi जेलों में अब नवविवाहिता संग समय बिता सकेंगे कैदी, रखना होगा इन बातों का ध्यान दरिंदगी की हद! मेले से लौट रही किशोरी को अगवा कर किया गैंगरेप, फिर निर्वस्त्र दौड़ाया हंसते-हंसाते सबको रुला गए गजोधर भइया: नहीं रहे काॅमेडियन राजू श्रीवास्तव 41 दिन की लंबी लड़ाई हार गए एक्टर अंकिता लोखंडे (बायोग्राफी) जीवन परिचय |Ankita Lokhande Biography In Hindi Indira Ekadashi Vrat 2022: आज है इंदिरा एकादशी व्रत, जानें मुहूर्त, व्रत और पूजा की सही विधि Wednesday Ka Rashifal: आज दांपत्य जीवन में मिलेगा सुख, आर्थिक लाभ का बन रहा योग, पढ़ें अपना राशिफल

किसानों के लिए प्रोत्साहन राशि बढ़ाने का उप समिति कर रही विचार

भोपाल। मध्य प्रदेश में सीएम शिवराज की अध्यक्षता में बनी उप समिति ने किसानों के लिए बड़ा फैसला लिया है। दरअसल प्रदेश में धान की मिलिंग तेजी कराने के लिए मिलर्स को प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि को बढ़ाया जा सकता है। इसके लिए समिति की बैठक में प्रोत्साहन राशि को बढ़ाने पर विचार किया गया। हालांकि इस बारे में अंतिम निर्णय सीएम शिवराज को ही लेना है। माना जा रहा है कि मिलर्स को प्रति क्विंटल दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि को बढ़ाकर 100 रुपए किया जा सकता है।

दरअसल प्रदेश में धान की मिलिंग बहुत धीमी गति से हो रही है। मिलर्स मिलिंग में रुचि नहीं दिखा रहे हैं जबकि केंद्र सरकार द्वारा चावल की गुणवत्ता की जांच कराए जाने के बाद मिलर्स धान की गुणवत्ता को लेकर टेस्ट मिलिंग का दबाव बना रहे हैं। हालांकि अभी तक प्रदेश को केंद्र सरकार ने मंजूरी नहीं दी है। जिसके बाद समर्थन मूल्य पर खरीदी गई धान की मिलिंग से जुड़े मुद्दे पर विचार करने के लिए गठित मंत्रिमंडल की उपसमिति में प्रोत्साहन राशि को बढ़ाने का विचार किया गया है।

बताया जा रहा है कि समिति द्वारा राशि बढ़ाने के प्रस्ताव पर निर्णय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ही लेंगे। हालांकि बैठक में नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंध संचालक ने मिलिंग का सारा विवरण समिति के सामने रखा। इसके बाद आयुष मंत्री रामकिशोर कावरे ने कहा कि पक्का फर्श बनाकर अनाज रखने की जगह को गोदाम में बदला जाना चाहिए।

बता दें कि इससे पहले उपार्जित धान की मिलिंग और निस्तारण के लिए उस समिति का गठन किया गया था। जिसमें मंत्री बिसाहूलाल सिंह, जगदीश देवड़ा, रामकिशोर कावरे के अलावा कृषि मंत्री कमल पटेल भी शामिल हैं। ज्ञात हो कि प्रोत्साहन राशि बढ़ाने के प्रस्ताव पर समिति ने प्रशासन से 25 से बढ़ाकर 100 किए जाने पर विचार किया विभाग द्वारा कहा गया। प्रशासन की राशि 25 से बढ़ाकर 50 किए जाने के बाद भी मिलर्स द्वारा मिलिंग में कोई रुचि नहीं दिखाई गई थी। जिसके बाद इस निर्णय पर विचार किया जा रहा है।

इंदौर अपार्टमेंट में चल रहे ‘सेक्स रैकेट’ का पर्दाफाश     |     Thursday Ka Rashifal: आज मनोरंजन का मिलेगा मौका, वाणी पर रखें संयम, पढ़ें अपना राशिफल     |     योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय, इतिहास | Yogi Adityanath Biography in Hindi     |     कपिल शर्मा का जीवन परिचय एवं शो की जानकारी | Kapil Sharma Biography in hindi     |     जेलों में अब नवविवाहिता संग समय बिता सकेंगे कैदी, रखना होगा इन बातों का ध्यान     |     दरिंदगी की हद! मेले से लौट रही किशोरी को अगवा कर किया गैंगरेप, फिर निर्वस्त्र दौड़ाया     |     हंसते-हंसाते सबको रुला गए गजोधर भइया: नहीं रहे काॅमेडियन राजू श्रीवास्तव 41 दिन की लंबी लड़ाई हार गए एक्टर     |     अंकिता लोखंडे (बायोग्राफी) जीवन परिचय |Ankita Lokhande Biography In Hindi     |     Indira Ekadashi Vrat 2022: आज है इंदिरा एकादशी व्रत, जानें मुहूर्त, व्रत और पूजा की सही विधि     |     Wednesday Ka Rashifal: आज दांपत्य जीवन में मिलेगा सुख, आर्थिक लाभ का बन रहा योग, पढ़ें अपना राशिफल     |    

SMTV India
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088